वंदे भारत ट्रेन को विमान की तरह मिलेंगी सीटें, टाटा ग्रुप तैयार कर रहा है 145 करोड़ रुपये

Technology

देश में रेलवे सेवा को बेहतर बनाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। देश में हाई स्पीड ट्रेन को चलाने पर भी ज़ोर दिया जा रहा है। वहीं इसी कड़ी में वंदे भारत ट्रेन का संचालन भी किया जा रहा है जो इस समय भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेनों में शामिल हैं। फिलहाल इस तेन को दो रूटों पर चलाया जा रहा है लेकिन अन्य कई रूटों पर भी इसे जल्द ही शुरू किया जाने वाला है।

75 ट्रेनों को चलाने का लक्ष्य

वहीं अब खबर आ रही है कि अगले साल तक 75 वंदे भारत ट्रेनों को पटरियों पर उतारने का लक्ष्य है और इसके लिए तैयारी भी की जा रही हैं। अब वंदे भारत ट्रेनों की सीटों को तैयार करने का जिम्मा भी टाटा ग्रुप को सौंप दिया गया है। करोड़ों के खर्च से बेहद आरामदायक सीटें इस ग्रुप द्वारा तैयार की जाने वाली हैं।

145 करोड़ के खर्च से तैयार होंगे ये नई सीटें

देश में वंदे भारत ट्रेनों की संख्या को बढ़ाने पर ज़ोर दिया जा रहा है। वहीं अब इन ट्रेनों के लिए सीटें तैयार करने का जिम्मा भारत की सबसे भरोसेमंद कंपनी टाटा स्टील को दिया गया है। ये सीटें बेहद खास होने व आली हैं। बताया जा रहा है कि ये सीटें a hundred and eighty डिग्री तक घूमने में भी सक्षम हैं। कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट देवशीष के अनुसार 22 ट्रेनों के लिए कंपनी को सीट बनाने का ऑर्डर दिया गया है।

145 करोड का आएगा खर्च

इस ऑर्डर को पूरा करने में भी 145 करोड़ का खर्च आने व्बला है। इन खास सीटों की सप्लाई भी सितंबर महीने से रेलवे को शुरू कर दी जाएगी। देश में अपनी तरह की पहली सिटिंग सिस्टम सीट बनाई जा रही हैं। वहीं यात्री भी इन सीटों पर बैठकर आरामदायक सफर कर सकते हैं।

जानिए इन सीटों की खासियत

बताया जा रहा है कि ये सीटें विमानों की आरामदायक सीटों की तरह ही होने वाली हैं। ये ऑर्डर 12 महीनों में पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है। ये सीटें फाइबर रिइंफोर्सड पोलिमर की बनाई जाने वाली हैं। इन सीटों से यात्रियों की सुरक्षा को भी बढ़ाया जा सकता है। वहीं इन सीटों को 180 डिग्री तक घुमाया भी जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *